100+ Dhokha shayari in hindi 2023 | धोखा शायरी | प्यार में धोखा शायरी हिन्दी में 2023

Dhokha shayari in hindi 2023 : हेल्लो दोस्तों स्वागत है आपका हमारी एक और धमाकेदार पोस्ट में क्या आप प्यार में या अपनों से धोखा खा चुके हैं  ! और इन्टरनेट पर धोका शायरी खोज रहे हैं ! तो आप बिलकुल सही जगह पर आये हैं ! हम आपके लिए लेकर आये हैं Best Dhokha shayari 2023 hindi में ! दोस्तों इन shayaris को आप अपने पार्टनर के copy paste करके बड़ी ही आसानी से facebook , instagram , whatsapp पर  शेयर कर सकते है !

 

Dhokha shayari in hindi 2023

Dhokha shayari in hindi 2023

इश्क सच्चा मिले या ना मिले , दर्द सच्चा मिलता है ,

इश्क ना करना , बस धोखा मिलता है !

Ishq sachha mile ya na mile , dard sachha milta hai ,

ishq na karna , bas dhokha milta hai ,

 

एक बार किसी के धोखे से दिल टूट जाए तो

शायद ही फिर जुड़ पाता है।

Ek baar kesi ke dhoke se dil toot jaye to

Shayad hi fir jud pata hai !

 

धोखा देती है अक्सर मासूम चेहरे की चमक,

हर काँच के टुकड़े को हीरा नहीं कहते।

Dhoka deti hai aksar masoom chehre ki chamak

Har kanch ke tukde ko heera nahi kahte

 

लोग धोखा हमेशा गलत इंसान से खाते है,

ओर बदला अच्छे इंसानों से लेते है।

Log dokha hamesha galat insaan se khate hai

Or badala ache insaano se lete hai

 

मेरे साथ धोखा तो उन लोगों ने किया,

जिन्होंने अपना होने का दावा

सबसे ज्यादा किया।

Mere sath dokha un logon ne kiya

Jinhone apna hone ka dawa

Sabse jyada kiya

 

अपनों से धोखा शायरी 

Dhokha shayari in hindi 2023

 

धोखा ही देना था तो बता देते ,

हम नादानों की तरह ,

अपनी दुनिया तुम्हारे हवाले

नहीं करते

Dhokha hi dena tha to bata dete ,

ham nadano ki tarah ,

apni duniya tumhare havale

nahi karte ,

 

सुना था अपने धोखा देते हैं

मगर यक़ीन तब हुआ जब किसी अपने ने

धोखा देकर यह साबित कर दिया।

Suna tha apne dokha dete hai

Magar yakeen tab hua jab kesi apne ne

Dhoka dekar yah sabit kar diya

 

दिल के दरवाज़े तो अभी भी खुलते है,

अपनी तरफ से वो ही नहीं चलते है।

Dil ke darvaje to abhi bhi khulte hain

Apni taraf se vo hi nahi chalet hain

 

धोखा वही देता है जो सबसे अपना होता है

और विश्वास सब अपनों से उठ जाता है।

Dhoka vahi deta hai jo apna hota hai

Or visvaas sab apnon se uth jata hai

 

जैसे जैसे लोग अपनों से धोखा खा रहे हैं

वैसे वैसे लोगो का अपनों पर से विश्वास उठ रहा है।

Jaise jaise log apnon se dhoka kha rahe hain

Vaise vaise logon ka apnon par se visvaas uth raha hai

 

Dhoka shayari 2023

Dhokha shayari in hindi 2023

आखिर तुम भी उस आईने की तरह निकले

जो भी सामने आया , तुम उसी की हो गयी

Aakhir tum bhi us aaine ki tarah nikle

jo bhi samne aaya , tum usi ki ho gayi

 

इस भरी दुनिया में कोई ख़ास ना रहा

गैरों की बात छोड़ो अपनों पर विश्वास ना रहा।

Es bhari dunia me koi khas na raha

Gairon ki baat chodo apnon par visvaas na raha

 

अपनों से इसीलिए भी धोखा खाने लगे हैं लोग

नक़ाब पर नक़ाब लगाने लगे हैं लोग।

Apnon se isaliye bhi dhoka khane lage hain log

Nakaab par nakaab lagane lage hain log

 

अपने तो बस वो बना करते थे,

हक़ीकत में उनसे बड़ा कोई गैर नहीं था।

Apne to bas vo bana karte the

Hakeekat me unse bada koi gair nahi tha

 

दिल के दर्द को दिखाना बड़ा मुश्किल है,

धोका खा कर बताना बड़ा मुश्किल है।

Dil ke dard ko dikhana bada muskil hai

Dhoka khakar batana bada muskil hai

Pyaar me dhokha shayari 

Dhokha shayari in hindi 2023

तकलीफ ये नहीं कि किस्मत ने मुझे धोखा दिया ,

मेरा यकीन तुम पर था किस्मत पर नहीं ,

Takleef ye nahi ki kismat ne mujhe dhokha diya ,

Mera yakeen tum par tha kismat par nahi ,

 

कुछ लोग इतने गरीब होते है की,

देने के लिए कुछ नहीं होता तो धोखा दे देते है।

Kuch log etane gareeb hote hain ki

Dene ke liye kuch nahi hota to

Dhoka de dete hai

 

ज़िंदगी में धोखे तो बहुत खाए

मगर इस दिल को दर्द तब हुआ

जब किसी अपने से धोखा खाया।

Jindagi me dhoke to bahot khaye

Magar es dil ko dard tab hua

Jab kesi apne se dhoka khaya

 

ग़मों की बरसात समेटे बैठा हूँ,

किसी बेवफा से धोखा खाया बैठा हूँ,

जाने कब देगा उपरवाला मुझे मौत ,

खुदा के भरोसा आस लगाये बैठा हूँ।

Gamon ki barsaat samet baitha hu

Kesi bebfa se dhoka khaya baitha hu

Jane kab dega uparwala mujhe mout

Khuda ke bharose aas lagaye baitha hu

 

आग दिल में लगी, जब वो खफा हुए

महसूस हुआ तब, जब वो जुआ हुए

करके वफ़ा कुछ दे ना सके वो

पर बहुत कुछ दे गए जब वो बेवफा हुए।

Aag dil me lagi , jab vo khafa huye

Mahsoos hua tab , jab vo juda huye

Karke bafa kuch dena sake vo

Par bahut kuch de gaye , jab vo bebfa huye

 

bharosa dhokha shayari

Dhokha shayari in hindi 2023

 

कैसी है ये हमारी तकदीर

हार तरफ दगा ही पाया है

दिल में तो है प्यार ही प्यार लेकिन

हर तरफ बेबफाओं को ही पाया है ! 

kaise hai ye hamari takdeer

har taraf daga hi paya hai

dil me to hai pyar hi pyar lekin

har taraf bebfaon ko hi paya hai

 

किसी को अपना बना कर धोखा मत देना

वर्ना लोगों का अपनों पर से विश्वास उठ जाएगा।

Kesi ko apna banakar dhoka mat dena

Varna logon ka apnon par se visvaas uth jayega

 

धोखेबाज हैं यह दुनिया वाले,

इस्तेमाल करना खूब जानती है

दिल को खुद ही तोड़ कर,

हाल पूछना भी खूब जानते है।

Dhokebaaj hain ye dunia wale

Istmaal karna khoob jante hain

Dil ko khud hi tod kar

Haal puchna bhi khoob jante hain

 

खाये है लाखो धोखे

एक धोखा और सह लेंगे

तू लेजा अपनी डोली को

हम अपनी अर्थी को बारात कह लेंगे।

Khaye hain lakhon dhoke

Ek dhoka or sah lenge

Tu leja apni doli ko

Ham apni arthi ko barat kah lenge

 

हर भूल तेरी माफ़ की,

हर खता को तेरी भुला दिया

गम ये है कि मेरे प्यार का,

तूने बेवफा बनके सिला दिया।

Har bhool teri maaf ki

Har khata ko teri bhula diya

Gam ye hai ki mere pyaar ka tune

Bebfa banke sila diya

Dhokha shayari hindi 

Dhokha shayari in hindi 2023

 

तुझसे प्यार बहोत ज्यादा था

तेरी हार बात का मुझे अंदाजा था

तूने मुझे अचानक कुछ ऐसा दर्द दे दिया

धोखा का तोहफा मेरे दिल को दे दिया

Tujhse pyaar bahot jyada tha

teri har baat ka mujhe andaja tha

tune mujhe achanak kuch aisa dard de diya

dhokha ka tohfa mere dil ko de diya

 

उन्होंने हमें आजमाकर देख लिया,

इक धोखा हमने भी खा कर देख लिया,

क्या हुआ हम हुए जो उदास,

उन्होंने तो अपना दिल बहला के देख लिया

Unhone hame aajmakar dekh liya

Ek dhoka hamne bhi khakar dekh liya

Kya hua ham huye jo udaas

Unhone to apna dil bahla ke dekh liya

 

क्या गलती थी इस दीवाने की,

बस चाहत थी तुम्हे अपना बनाने की

एक मौका तो दिया होता

वजह नहीं मिलती हमे छोड़ के जाने की।

Kya galti thi es deewane ki

Bas chahat thi tumhe apna banana ki

Ek mouka to diya hota

Vajah nahi milti hame chod ke jane ki

 

मुझे मंज़ूर थे वक़्त के हर सितम

मगर तुमसे बिछड़ जाना

ये सजा कुछ ज़्यादा हो गयी।

Mujhe manjoor the vakt ke har sitam

Magar tumse bichad jana

Ye saza kuch jyada ho gayi

 

धोखा दिया था जब तूने मुझे

जिंदगी से मैं नाराज था

सोचा कि दिल से तुझे निकाल दूं

मगर कंबख्त दिल भी तेरे पास था।

Dhoka diya tha jab tune mujhe

Jindagi se main naraj tha

Socha ki dil se tujhe nikaal du

Magar kambakt dil bhi tere pass tha

 

Dhoka dene wali shayari 

Dhokha shayari in hindi 2023

साथ तो जिंदगी भी छोड़ देती है

फिर लोगों से शिकायत केसी

sath to jindagi bhi chod dete hai

fir logon se shikayat kesi

 

मेरा दिल जानता है,

दोनों मंज़र मैंने देखे है

तेरे आने पे क्या गुज़री

तेरे जाने पर क्या गुज़री।

Mera dil janta hai

Dono manjar maine dekhe hain

Tere aane pe kya guzari

Tere jaane par kya guzari

 

ज़ख़्म जब मेरे सीने के भर जाएँगे,

आँसू भी मोती बनकर बिखर जाएँगे,

ये मत पूछना किस किस ने धोखा दिया,

वरना कुछ अपनो के चेहरे उतर जाएँगे।

Jakham jab mere seen eke bhar jayenge

Aansu bhi moti banakar bikhar jayenge

Ye mat puchna kis kis ne dhoka diya

Varna kuch apnon ke chehre utar jayenge

 

धोखा मिला जब प्यार में,

ज़िन्दगी में उदासी छा गई,

सोचा था छोड़ देंगे इस राह को,

कम्बख़त मोहल्ले में दूसरी आ गई।

Dhoka mila jab pyaar main

Jindagi main udashi chha gayi

Socha tha chod denge es raah ko

Kambakt mohlle main dusari aa gayi

 

धोखा देकर ऐसे चले गए

जैसे कभी जानते ही नहीं थे

अब ऐसे नफरत जताते हो

जैसे प्यार को मानते ही नहीं थे।

Dhoka dekar aise chale gaye

Jaise kabhi jante hi nahi the

Ab aise nafarat jatate ho

Jaise pyaar ko mante hi nahi the

 

धोखा दिया था जब तूने मुझे,

जिंदगी से मैं नाराज था,

सोचा कि दिल से तुझे निकाल दूं,

मगर कंबख्त दिल भी तेरे पास था।

Dhoka diya tha jab tune mujhe

Jindagi se main naraj tha

Socha ki dil se tujhe nikaal du

Magar Kambakt dil bhi tere paas tha

 

Love dhoka shayari 2023

Dhokha shayari in hindi 2023

इश्क सच्चा मिले या ना मिले,

दर्द सच्चा मिलता है,

इश्क ना करना बस धोखा मिलता है।

Ishq sachha mile ya na mile

Dard sachha milta hai

Ishq na karna bas dhoka milta hai

 

हम क्या शिकायत करें किसी से,

यहां तो हर कोई बेवफा है,

इश्क करो भले जी जान से,

धोखा यहां सबको मिलता है।

Ham kya shikayat Karen kesi se

Yaha to har koi bebfa hai

Ishq karo bhele ji jaan se

Dhoka yaha sabko milta hai

 

खुशी देने वाले भले ही हमेशा अपने नहीं होते जनाब,

लेकिन दर्द देने वाले हमेशा अपने ही होते हैं।

Khushi dene wale bhale hi hamesha apne nahi hote janaab

Lekin dard dene vale hamesha apne hi hote hain

 

इश्क़ में किनारा पाना आसान नहीं,

हर लहर यहाँ धोखे की उठती हैं।

Ishq me kinara pana aasaan nahi

Har lahar yahan dhoke ki uthati hai

 

उम्मीद ना कर इस दुनिया में,

किसी से ‘हमदर्दी’ की,

बड़े प्यार से जख्म देते है, शिद्दत से चाहने वाले।

Ummed na ka res dunia me

Kesi se hamdardi ki

Bade pyaar se jakham dete hain

Siddat se chahne wale

 

Dhoka shayari with image 

Dhokha shayari in hindi 2023

धोखा ही देना था तो बता देते,

हम नादानो की तरह,

अपनी दुनिया तुम्हारे हवाले नही करते।

मेरे साथ धोखा तो उन लोगों ने किया,

जिन्होंने अपना होने का दावा सबसे ज्यादा किया।

Dhoka hi dena tha to bata dete

Ham nadano ki tarah dunia tumhare havane nahi karte

Mere sath to dhoka un logon ne kiya

Jinhone apna hone ka dava sabse jyada kiya

 

जहर भी ना मार सके जिसको,

प्यार तेरा उसे मार गया,

दिल का बादशाह भी,

तेरे धोखों के आगे हार गया।

Jahar bhi na maar sake jisako

Pyaar tera use maar gaya

Dil ka badshah bhi

Tere dhoke kea age haar gaya

 

कभी फुर्सत मिले तो,इतना जरूर बताना,

वो कौन सी मोहब्बत थी,जो हम तुम्हें ना दे सके।

Kabhi fursat mile to , itana jarur batana

Vo kon si mohbbat thi , jo ham tumhe na de sake

 

बहुत धोखा मिलता है उन लोगों को,

जो दिल के साफ़ होते है।

Bahot dhoka milta hai un logon ko

Jo dil ke saaf hote hain

 

ज़िंदगी सँवारने के लिए,

ज़िंदगी में धोखा खाना बहुत जरुरी है।

Jindagi savarne ke liye

Jindagi me dhoka khana jaruri hota hai

 

Dhoka shayari in english 

Dhokha shayari in hindi 2023

रिश्तों को वक़्त और हालात बदल देते है,

अब तेरा ज़िक्र होने पर, हम बात बदल देते है।

Riston ko vakt or halat badal dete hain

Ab tera jikra hone par , ham baat badal dete hai

 

हर रोज एक खाब टूट जाने दे,

हर रोज ऐसे ही खूद को रूठ जाने दे,

मेरी किस्मत में ही बेवफाई है,

दिल एक शीशा है आज फिर टूट जाने दे।

Har roj ek khvab toot jane de

Har roj aise hi khud ko rooth jane de

Meri kismet me bebfai hai

Dil ek sheesha hai aaj fir toot jane de

 

मैंने प्यार जितनी तसल्ली से किया,

उसने धोखा भी बहुत मज़े से दिया।

Maine pyaar jitni tasalli se kiya

Usane dhoka bhi bahut maze se diya

 

सोचा था तड़पायेंगे हम उन्हें,

किसी और का नाम लेके जलायेगें उन्हें,

फिर सोचा मैंने उन्हें तड़पाके दर्द मुझको ही होगा,

तो फिर भला किस तरह सताए हम उन्हें।

Socha tha tadpayenge ham unhe

Kesi ka lekar jalayenge unhe

Fir socha maine unhe tadpake dard mujhko hi hoga

To fir bhala kis tarah sataye ham unhe

ये भी पड़े –

हेल्लो दोस्तो मेरा नाम है - Neeraj Guru और मैं neerajguru.com का Author हूँ | यहाँ मैं Technology से जुड़ी जानकारी हिन्दी मैं शेयर करता हूँ इसलिए आप neerajguru.com पर एक बार जाकर जरुर देखें - धन्यबाद

Sharing Is Caring:

Leave a Comment