Waqt shayari in hindi 2023 | Waqt shayari 2023 | वक़्त पर शायरी

Waqt shayari in hindi 2023 :  दोस्तों क्या आप भी गूगल पर वक्त पर शायरी खोज रहे हैं ! तो आप बिलकुल सही जगह पर आये हैं ! यहाँ आपको वक्त से जुडी बहोत सारी शायरी देखने को मिलेंगी जिन्हें आप facebook , instagram , whatsapp , आदि सोशल मीडिया प्लेटफोर्म पर शेयर कर सकते हैं !

 

Waqt shayari in hindi 2023

 

बुरा हो वक्त तो सब आजमाने लगते हैं,

बड़ो को छोटे भी आँखे दिखाने लगते हैं,

नये अमीरों के घर भूल कर भी मत जाना,

हर एक चीज की कीमत बताने लगते हैं।

Bura ho waqt to sab aajmane lagte hain 

Badon ko chote bhi aankhen dikhane lagate hain 

Naye ameeron ke ghar bhool kar mat jana 

Har ek cheez ki keemat batane lagte hain …

 

जिन्हें दर्द देना है दर्द दे दो,

जिन्हें आजमाना है आजमाने दो,

हर एक चीज तुम्हे वापस लौटा दंगे

बस अपना सही वक्त आने दो।

Jinhe dard dena hai dard de do 

Jinhe aajmaana hai aajmane do 

Har ek cheez tumhe wapas louta denge 

Bas apna sahi waqt aane do 

 

जिन्दगी में अगर बुरे वक्त नही आते

तो अपनों में छुपे गैर,

और गैरों में छुपे हुए अपने

कभी नजर नही आते।

Jindagi me agar bure wakt nahi aate 

To apnon me chupe gair 

Or gairon me chupe apne 

Kabhi nazar nahi aate 

 

रोने से किसी को पाया नहीं जाता,

खोने से किसी को भुलाया नहीं जाता,

वक़्त सबको मिलता है ज़िन्दगी बदलने के लिए,

पर ज़िन्दगी नहीं मिलती वक्त बदलने के लिए।

Rone se kesi ko paya nahi jata 

Khone se kesi ko bhulaya nahi jata 

Wakt sabko milata hai jindagi badalne ke liye 

Par jindagi nahi milti wakt badalne ke liye 

 

हो रात तो सुबह का इंतजार करो,

वो पल भी आयेगा जिसका इंतजार है,

रब पर भरोसा ओर वक्त पे ऐतबार करो।

 

वक्त बदला और बदली कहानी हैं,

संग मेरे हसीं पलों की यादें पुरानी हैं,

ना लगाओ मेरे ज़ख्मो पे मरहम,

मेरे पास उनकी बस यही निशानी हैं!

Wakt badla or badali kahani hai 

Sang mere hasi palon ki yaden purani hain 

Na lagao mere jakhamon pe maraham 

Mere paas unki bas yahi nishani hai 

 

आँखों की नमी बढ़ गई,

बातों के सिलसिले कम हो गए,

जनाब ये वक़्त बुरा नहीं है,

बुरे तो हम हो गए।

Aankhon ki nami bad gayi 

Bataon ke silsile kam ho gaye 

Janaab ye waqt bura nahi hai 

Bure to ham ho gaye 

 

ज़िन्दगी हसीन है इससे प्यार करो,

हो रात तो सुबह का इंतज़ार करो

वो पल भी आयेगा जिसका इंतज़ार है

रब पर भरोसा और वक्त पर ऐतबार करो

aseen hai isase pyaar karo 

Ho rat to subah ka intzaar karo 

Vo pal bhi aayega jiska intzaar hai 

Rab par bharosa or wakt par etbaar karo 

 

अगर खुद के लिए ही वक्त नहीं

निकाल पाओगे तो क्या खाक खुद

को बेहतर बना पाओगे।

Agar khud ke hi wakt nahi 

Nikal paoge 

To kya khaak khud ko behtar bana paoge 

 

ज़िन्दगी की भी अजीब सी कहानी है,

किसी के साथ हम वक़्त को भूल जाते है,

तो कोई वक्त के साथ हमे भूल जाते है।

Jindagi ki bhi ajeeb si kahani hai 

Kesi ke sath ham wakt ko bhool jate hain 

To koi wakt ke sath hame bhool jata hai 

 

वक्त दर्द को भी बेदर्द कर देता है,

जख्म छोटे हो चाहे घाव बड़े कर देता है,

कौन चाहे की अपनो से दूर होना,

मगर ये समय सबको ऐसे ही मजबूर कर देता है।

Waqt dard ko bhi bedard kar deta hai 

Jakham chote ho ya ghaav bade kar deta hai 

Kon chahe apnon se door hona 

Magar ye samay sabko aise hi majboor kar deta hai 

Bura waqt shayari

Waqt shayari in hindi 2023

ये भी पड़ें – 

 

वक्त जैसे ही बुरा आया पता

लग गया कौन अच्छा था और

कौन बुरा था।

wakt jaise hi bura aaya 

Pata lag gaya kon achha tha 

Or kon bura tha 

 

कभी गम कभी खुशी

ये जिंदगी का खेल है,

जीवन की पटरी पर दौड़ती

ये वक्त नामक रेल है।

Kabhi gam kabhi khushi 

Ye jindagi ka khel hai 

Jeevan ki patri par doudti ye 

Wakt namak rel hai 

 

किसी की मजबूरियों पर मत हँसिये,

कोई मजबूरियाँ ख़रीद कर नही लाता,

डरिए वक्त की मार से क्योकि

बुरा वक्त किसी को बताकर नही आता।

Kesi ki majbooriyon par mat hasiye 

Koi majbooriyan khareed kar nahi lata 

Dariye wakt ki maar se kyoki 

Bura wakt kesi ko batakar nahi aata 

 

कितना निराला होता है ना 

ये बुरा वक़्त भी जनाब,

कोई अकेला रहना चाहता है,

तो कमबख्त कोई किसी के साथ।

Kitana nirala hota hai na 

Ye bura wakt bhi janaab 

Koi akela rahna chahta hai 

To kambakht koi kesi ke sath 

 

समय की आंच में पत्थर भी पिघल जाते है,

ख़ुशी के लम्हे गम में बदल जाते है,

कौन करता है याद किसी को यारा,

समय के साथ खयालात भी बदल जाते है।

Samay ki aanch me patthar bhi pighal jaate hai 

Khushi ke lamhe gam me badal jaate hain 

Kon karta hai yaad kesi ko yara 

Samay ke sath khayalaat bhi badal jaate hain 

 

जब वक्त बुरा आता है,

तो कुछ अपने भी साथ कम

और ज्ञान ज्यादा देते है।

Jab wakt bura aata hai 

To kuch apne bhi sath kam 

Or gyaan jyada dete hain 

 

यह वक़्त गुजरता रहता है,

इंसान भी बदलता रहता है,

संभाल लो खुद को तुम जनाब

वक्त खुद चीख कर कहता है।

Ye wakt guzarta rahta hai 

Inshaan bhi badalta rahta hai 

Samhal lo khud ko tom janab 

Wakt khud cheekh kar kahata hai 

 

बुरा वक्त तो सबका आता हैं,

कोई बिखर जाता हैं कोई निखर जाता हैं।

Bura wakt to sabko aata hai 

Koi bikhar jata hai to koi nikhar jata hai

Waqt par shayari

Waqt shayari in hindi 2023

मुश्किल वक्त का सबसे बड़ा सहारा है उम्मीद,

जो एक प्यारी सी मुस्कान देकर,

कानों में धीरे से कहती है सब अच्छा होगा।

Mushkil wakt ka sabse bada sahara hai ummeed 

Jo ek pyari si muskaan dekar 

Kanon me dheere se kahti hai sab achha hoga 

 

जिसको जो कहना है कहने दो 

आपका क्या जाता है,

वक्त वक्त की बात है और 

वक्त सबका आता है।

Jisko jo kahna hai kahne do 

Aapka kya jata hai 

Wakt wakt ki baat hai 

Or wakt sabka aata hai 

 

धीरे-धीरे सब कुछ संवर जाता है,

वक्त कितना भी मुश्किल हो गुज़र जाता है।

Dheere dheere sab kuch savar jata hai 

Wakt kitna bhi mushkil ho guzar jata hai 

 

वक़्त लगता है खुद को बनाने में,

इसलिए वक़्त बर्बाद मत करो,

बेवजह किसी को मनाने में।

Wakt lagta hai khud ko banane me 

Isaliye wakt barbaad mat karo 

Bebjaah kesi ko manane me 

 

समय का फैसला ही

आखरी फैसला होता है,

फिर ना गवाहों की सुनी जाती है,

और ना अदालत की।

Samay ka faisala hi aakhiri faisala hota hai 

Fir na gavahon ki suni jati hai or na adalat ki 

 

जैसी करनी होगी तेरी,

वैसा ही फल तू पाएगा,

तेरी क्या औकात है प्यारे,

ये वक्त ही तुझे बताएगा।

Jaisi karni hogi teri 

Vaisa hi phal tu payega 

Teri kya aoukaat hai pyare 

Ye wakt hi tujhe batayega 

 

वक्त बड़ा अजीब होता है,

इसके साथ चलो तो किस्मत बदल देता है,

और ना चलो तो

किस्मत को ही बदल देता है।

Wakt bada ajeeb hota hai 

Isake sath chalo to kismat badal deta hai 

Or na chalo to kismat ko hi badal deta hai 

 

वक्त ने थोड़ा सा साथ नहीं दिया 

तो लोगो ने, काबिलियत पर शक 

करना शुरू कर दिया।

Wakt ne thoda sa sath nahi diya 

To logon ne , kabiliyat par shak karna 

Shuru kar diya

 

किसी को भी कमजोर मत समझना

क्युकी तक़दीर को बदलने में

वक्त नहीं लगता।

Kesi ko bhi kamjor mat samjhana 

Kyoki takdeer ko badalne me 

Wakt nahi lagta 

Waqt shayari 2 line

Waqt shayari in hindi 2023

वक्त जब भी शिकार करता है,

हर दिशा से वार करता है। 

Wakt jab bhi shikar karta hai 

Har desha se waar karta hai 

 

वो वक्त भी बहुत खास होता है,

जब सर पर माता पिता का हाथ होता है।

Vo wakt bhi bahot khaas hota hai 

Jab sar par mata pita ka hath hota hai 

 

समय घाव करना भी जानता है,

और भरना भी जानता है। 

Samay ghav karna bhi janta hai 

Or bharna bhi janta hai 

 

किसी के बुरे वक्त पर हंसने की गलती मत करना,

ये वक्त है जनाब चेहरे याद रखता है।

Kesi ke bure wakt par hasne ki galti matkarna 

Ye wakt hai janaab chehre yaad rakhata hai 

 

वक्त-वक्त पर खुद में बदलाव जरुरी है, 

 तभी जाकर जिन्दगी का दौर बदलेगा।

Wakt wakt par khud me badalaav jaruri hai 

Tabhi jakar jindagi ka dour badalega 

 

समय बदला और बदली कहानी हैं,

संग मेरे हसीं पलों की यादें पुरानी हैं।

Samay badla or badali kahani hai 

Sang mere hasi palon ke yaden purani hain 

 

वक्त तू कितना भी सता ले हमे लेकिन याद रख,

किसी मोड़ पर तुझे भी बदलने पर मजबूर कर देंगे!

Wakt tu kitna bhi sata le hame lekin yaad rakh 

Kesi mod par tujhe bhi badalne par majboor kar denge 

 

समय से बड़ा बलवान,

इस संसार में कोई नहीं है।

Samay se bada balvaal 

Es sansaar me koi nahi hai 

 

जिसके पास पैसा है उसके पास वक़्त नहीं 

और जिसके पास वक़्त है उसके पास पैसा नहीं। 

Jiske pas paisa hai usake paas wakt nahi 

Or jisake paas wakt hai usake pas paisa nahi 

 

तू बस वक्त से दोस्ती कर बाकी 

सब तुमसे दोस्ती करेंगे। 

Tu bas wakt se dosti kar 

Baaki sab tumse dosti karenge 

 

वक्त से पहले हादसों से लड़ा हूं

मैं अपनी उम्र से कई साल बड़ा हूं।

Wakt se pahle hadase se lada hu 

Mai apni umra se kai saal bada hu 

 

दिल खोल कर हंसना तो मैं भी चाहता था

जिम्मेदारियों के बीच कभी वक़्त ही नही मिला। 

Dil khol kar hasana to me bhi chahta tha 

Jimmedariyon ke beech kabhi wakt hi nahi mila 

 

वक्त की क़द्र हम तब तक नहीं करते,

जब तक वक्त हमें पीछे ना छोड़ दे। 

Waqt ki kadra ham tab tak nahi karte 

Jab tak waqt hame pichhe na chod de 

 

बादशाह तो वक़्त होता है,

इंसान तो यु ही गुरुर करता है।

Badshah to wakt hota hai 

Inshaan to yuhi gurur karta hai 

 

वक्त के फैसले कभी गलत नही होते,

बस साबित होने में वक्त लगता है।

Wakt ke faisale kabhi galat nahi hote 

Bas sabit hone me wakt lagata hai 

Waqt waqt ki baat hai shayari

Waqt shayari in hindi 2023

कभी हाथों में उसका हाथ था,

जिंदगी में उसका प्यारा सा साथ था,

आज बदल गए हैं दिन, और बिखरे जज़्बात हैं,

वो भी वक्त की बात थी, ये भी वक्त की बात है।

Kabhi hathon me usaka hath tha 

Jindagi me usaka pyaar sa tha 

Aaj badal gaye hain din , or bikhare jasbaat hain 

Vo bhi wakt ki baat thi , ye bhi wakt ki baat hai 

 

तू चाहती रहे मुझे हर हाल में,

दिल चाहता है हर वक्त तू पास रहे,

चाहे कितनी भी दूरियां बढ़ जाए

फिर भी तू दिल से मेरे साथ रहे।

Tu chahti rahe har haal me 

Dil chahta hai har wakt tu paas rahe 

Chahe kitni bhi dooriyan bad jayen 

Fir bhi tu dil se mere sath rahe 

 

मोहब्बत क्या हुई हमें उनसे,

रोज मिलते गए हम,

वक़्त ने भी क्या पलटी मारी जनाब,

अंदर से टूट गए हम।

Mohbbat kya huyi hame unse 

Roj milte gaye ham 

Wakt ne bhi kya palti maari janaab 

Andar se toot gaye ham 

 

वक्त ने बदल दी, 

 तेरे मेरे रिश्ते की परिभाषा, 

 पहले दोस्ती, फिर अपनापन 

 और अब अजनबी सा अहसास।

Wakt ne badal di 

Tere mere riste ki paribhasa 

Pahle dost , fir apanapan 

Or ab ajnabi sa ahsaas

वक्त वक्त की बात है स्टेटस

Waqt shayari in hindi 2023

लगा कर हमें आदत अपनी इस 

मोहब्बत की अब,

कहते हो दूर रहो हमसे मेरे 

पास वक्त नहीं हैं।

Lagakar hame aadat apni is mohbbat ki ab 

Kahte ho door raho hamse Mere paas wakt nahi hai 

 

वक्त ने बदल दी, 

तेरे मेरे रिश्ते की परिभाषा, 

पहले दोस्ती, फिर अपनापन 

और अब अजनबी सा अहसास।

Wakt ne badal di 

Tere mere riste ki paribhasa 

Pahle dosti , fir apnapan 

Or ab ajnabi sa ahsaas 

 

मोहब्बत क्या हुई हमें उनसे,

रोज मिलते गए हम,

वक़्त ने भी क्या पलटी मारी जनाब,

अंदर से टूट गए हम।

Mohbbat kya huyi hame unse 

Roj milte gaye ham 

Wakt ne bhi kya palti maari janaab 

Andar se toot gaye ham 

 

कभी हाथों में उसका हाथ था,

जिंदगी में उसका प्यारा सा साथ था,

आज बदल गए हैं दिन, और बिखरे जज़्बात हैं,

वो भी वक्त की बात थी, ये भी वक्त की बात है।

Kabhi hatho me uska hath tha 

Jindagi me uska pyaara sa sath tha 

Aaj badal gaye hain din or bikhare jajbaat hain 

Vo bhi wakt ki baat thi , ye bhi wakt ki baat hai 

WAQT MOTIVATIONAL SHAYARI

Waqt shayari in hindi 2023

वक्त के साथ बदल जाओ या 

फिर वक्त बदलना सीखो 

मजबूरियों को मत कोसो 

हर हाल में चलना सीखो।

Wakt ke sath badal jao ya 

Fir wakt badalna seekho 

Majbooriyon ko mat koso 

Har haal me chalna seekho 

 

हार जाते हैं वो जो समय के आगे

घुटने टेक दिया करते हैं,

जीत उन्हीं की होती है जो बहानों के

लिबासों को उतार फेंक दिया करते हैं।

Haar jate hain vo samay ke aage 

Ghutane tek diya karte hain 

Jeet unhi ki hoti hai jo bahanon ke 

Libason ko utar kar phek diya karte hain 

 

वक्त से लड़कर जो अपना नसीब बदल दे,

इंसान वही जो अपनी तक़दीर बदल दे,

कल क्या होगा कभी ना सोचो,

क्या पता कल वक्त ख़ुद अपनी तस्वीर बदल दे।

Wakt se ladkar jo apna naseeb badal de 

Inshaan vahi jo apni takdeer badal de 

Kal kya hoga kabhi na socho 

Kya pata kal wakt khud apni tasveer badal de 

 

दुनिया समझती है बेकार जिसे,

वो खोटा सिक्का भी एक दिन चल जायेगा,

मंजिल चुन कर बढ़ चुका हूँ मैं,

हौसले बढ़ रहे हैं मेरे वक्त भी बदल जायेगा।

Duniya samajhti hai bekaar jise 

Vo khota sikka bhi ek din chal jayega 

Manjil chun kar bad chuka hu me 

Housale bad rahe hain mere wakt bhi badal jayenge 

 

अभी भी वक्त है वक़्त यूँ बेकार ना कर,

खींच ले कमान पर तीर और वार कर,

ज़्यादा से ज़्यादा निशाना चूक जाएगा,

जीतना है अगर कौशिशे सौ बार कर।

Abhi bhi vakt hai , wakt yu bekaar na kar 

Kheech le kamaan par teer or waar kar 

Jyada se jyada nishana chook jayega 

Jeetana hai agar koshish sou baar kar 

 

अगर खुद के लिए ही वक्त नहीं

निकाल पाओगे, तो क्या खाक खुद

को बेहतर बना पाओगे!

Agar khuda ke liye hi vakt nahi 

Nikal paoge 

To kya khak khud ko behtar bana paoge 

 

वक्त, मौसम और लोगों की 

एक ही फितरत होती है, 

कब कौन और कहाँ बदल जाए 

कुछ कह नहीं सकते।

Wakt , mousam , or logon ki 

Ek hi fitrat hoti hai 

Kab kon or kaha badal jaye 

Kuch kah nahi sakte 

 

घड़ी को देखो मत, 

बल्कि वो करो जो घड़ी करती है, 

बस चलते रहो।

Ghadi ko dekho mat 

Balki vo karo jo ghadi karti hai 

Bas chalte raho 

 

अभी तो थोडा वक्त हैं,

उनको आजमाने दो,

रो-रोकर पुकारेंगे हमें,

हमारा वक्त तो आने दो।

Abhi to thoda wakt hai 

Unko aajmane do 

Ro – rokar pukarenge hame 

Hamara wakt to aane do 

Sad waqt shayari in hindi

Waqt shayari in hindi 2023

ना जाने क्यों वक़्त इस तरह गुजर जाता है,

जो वक़्त बुरा है वो पलट के सामने आता है,

और जिस वक़्त को हम दिल से पाना चाहते हैं,

वो तो बस एक लम्हा बनकर बीत जाता है।

Na jane kyon wakt es tarah guzar jata hai 

Jo wakt bura hai , vo palat ke samne aata hai 

Or jis wakt ko ham dil se pana chahte hai 

Vo to bas ek lamha banakar beet jata hai 

 

जरूरत से ज्यादा इज्जत ओर समय देने से,

लोग आपको फालतू समझने लगते है।

Jarurat se jyada izzat or samay dene se 

Log aapko faltu samajhane lagte hain 

 

दिन गुजरता रहा वक्त ढलता रहा, 

इस जिंदगी के सफ़र में, 

रिश्तों का लहजा बदलता रहा।

Dil guzarata raha wakt dhalta raha 

Is jindagi ke safar me 

Riston ka lahja badalta raha 

 

कभी-कभी समय आने में इतना 

समय लग जाता है, की इंतज़ार करने 

वाले के पास और समय नहीं बचता।

Kabhi kabhi samay aane me i

Itna samay lag jata hai ki intzaar karne 

Vale ke paas or samay nahi bachata 

 

तुझे चाहने वाले कम ना होंगे,

वक़्त के साथ शायद हम ना होंगे,

चाहे किसी को कितना भी प्यार देना,

लेकिन तेरी यादों के हकदार सिर्फ हम ही होंगे।

Tujhe chahne wale kam na honge 

Waky ke sath shayad ham na honge 

Chahe kesi ko kitna bhi pyaar dena 

Lekin teri yadon ke hakdar sirf ham hi honge 

 

जब हम रिश्तो के लिए वक्त नही

निकाल पाते, तब वक्त हमारे

बीच से रिश्ते को निकाल देता है।

Jab ham riston ke liye vakt nahi 

Nikal pate , tab vakt hamare beech se 

Riste ko nikal deta hai 

Guzra hua waqt shayari

Waqt shayari in hindi 2023

तस्वीरें लेना भी जरूरी है जिंदगी में साहब,

आईना गुजरा हुआ वक्त नही बताया करते।

Tasveeren lena bhi jaruri hai jindagi me sahab 

Aaine guzara hua wakt nahi bataya karte 

 

गुजरते गुजरते हम यूं ही गुजर जायेंगे, 

वक्त ना सही एक दिन हम ही गुजर जायेंगे।

Gujarate – gujarate ham yu gujar jayenge 

Wakt na sahi ek din ham hi gujar jayenge 

 

गुजरा हुआ वक्त है जो बेकार था हमारा, 

अगर यही सोच कर रुक गए तो 

भविष्य कुछ नही हमारा।

Gujara hua wakt hai jo bekar tha hamara 

Agar yahi soch kar ruk gaye to 

Bhavisy kuch nahi hamara 

 

वक्त का सितम तो देखिए,

खुद गुज़र जाता है हमे वही छोड़ कर।

Vakt ka sitam to dekhiye 

Khud guzar jata hai hai hame vahi chodkar 

 

वक्त की एक आदत बहुत अच्छी हैं,

जैसा भी हो गुजर जाता हैं।

Vakt ki ek aadat bahot achhi hai 

Jaisa bhi ho guzar jata hai 

 

गुज़र जाते है खूबसूरत समय

यूँ ही मुसाफिरों की तरह,

यादें वही खड़ी रह जाती है,

रुके रास्तो की तरह।

Guzar jata hai khoobsurat samay 

Yu hi musafiron ki tarah 

Yaden vahi khadi rah jati hain 

Ruke raston ki tarah 

 

ज़मीन पर उनका नाम लिखते और मिटाते हैं, 

वक्त उनका तो गुजर जाता है, 

मिट्टी में हम मिल जाते हैं।

Jameen par unka naam likhate or mitate hain 

Vakt unka to gujar jata hai 

Mitti me ham mil jate hai 

 

कभी एक लम्हा ऐसा भी आता हैं,

जिसमे बीता हुआ कल नज़र आता हैं,

बस यादें रह जाती है याद करने के लिए,

और वक्त सब कुछ लेके गुज़र जाता हैं।

Kabhi ek lamha aisa bhi aata hai 

Jisame beeta hua kal nazar aata hai 

Bas yaden rah jati hain yaad karne ke liye 

Or wakt sab kuch lekar gujar jata hai 

Time shayari in hindi

Waqt shayari in hindi 2023

जो रोऊंगा तो पलकों पे नमी रह जायेगी,

ज़िन्दगी बस नाम की जिन्दगी रह जायेगी,

ये नहीं कि तुम बिन जी ना पाउँगा,

हाँ मगर जिन्दगी में हर वक्त एक तेरी कमी रह जायेगी।

Jo rounga to palkon me nami rah jayegi 

Jindagi bas naam ki jindagi rah jayegi 

Ye nahi ki tum bin ji nahi paunga 

Ha agar jindagi me har wakt ek teri kami rah jayegi 

 

मैं जिसके साथ होकर वक्त

को भूल जाती थी आज वो

वक्त के साथ मुझे भूल गए है।

Main jisake sath hokar wakt ko

Bhool jati thi 

Aaj vo wakt ke sath mujhe bhool gaye 

 

ये वक्त ही था जिसने मुझे बदनाम किया है,

वरना गिने जाते थे हम भी कभी उन शरीफों में।

Ye wakt hi tha jisane mujhe Badanaam kiya hai 

Varna gine jate the ham bhi  Kabhi un sareefon me 

 

हर वक्त इंसान ही नहीं गलत होता,

कभी-कभी वक्त भी गलत होता है।

Har wakt inshaan hi nahi galat hota 

Kabhi – kabhi vakt bhi galat hota hai 

Muskil waqt shayari ( मुश्किल वक्त शायरी )

 

वक्त पर साथ देने वालों के लिए,

कभी समय का इंतजार मत करना,

तुम भी साथ देना उनका हर मुश्किल में,

कभी पिछे मत रह जाना 

Wakt par sath dene valon ke liye 

Kabhi samay ka intzaar mat karna 

Tum bhi sath dena unka har mushkil me 

Kabhi pichhe mat rah jana 

 

वक्त, मौसम और लोगों की 

एक ही फितरत होती है,

कब, कौन और कहाँ बदल जाए 

कुछ कह नहीं सकते।

Wakt mousam or logon ki ek hi 

Fitrat hoti hai 

Kab kon kahan badal jaye 

Kuch kah nahi sakte 

 

हार जाउँगा मुकदमा उस अदालत में, 

ये मुझे यकीन था,

जहाँ वक्त बन बैठा जज और 

नसीब मेरा वकील था।

Har jaunga mukddama us adalat me 

Ye mujhe yakeen tha 

Jaha vakt ban baitha jaj or 

Jaha naseeb mera vakeel tha 

 

कुछ पाना कुछ खोना दस्तूर है जिन्दगी का,

यही एक किस्सा मशहूर है जिन्दगी का,

बीते हुए पल लौटकर नहीं आते

यही सबसे बड़ा कसूर है जिन्दगी का।

Kuch pana kuch khona dastur hai jindagi ka 

Yahi ek kissa mashoor hai jindagi ka 

Beete huye pal loutkar nahi aate 

Yahi sabse bada kasoor hai jindagi ka 

 

वक्त का पहिया कलाईयों पे बांध लेने से 

कुछ नहीं होगा जनाब,

उसके साथ चलके उसको 

आजमाना भी पड़ता है।

Vakt ka pahita kalaiyon par badh lene se 

Kuch naho hoga janab 

Usake sath chalke usko aajmana 

Bhi padta hai …… 

ये भी पड़ें 

हेल्लो दोस्तो मेरा नाम है - Neeraj Guru और मैं neerajguru.com का Author हूँ | यहाँ मैं Technology से जुड़ी जानकारी हिन्दी मैं शेयर करता हूँ इसलिए आप neerajguru.com पर एक बार जाकर जरुर देखें - धन्यबाद

Sharing Is Caring:

Leave a Comment